पीएलएफआई के पांच उग्रवादी पुलिस के हत्थे चढ़ेFive PLFI militants were caught by the police

रनिया में हत्याकांड को अंजाम देने की थी योजना

रांंची: हत्या की एक वारदात को अंजाम देने जा रहे पीएलएफआई के पांच उग्रवादी को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। मामले को लेकर एसपी नौशाद आलम ने बताया कि पुलिस ने गुप्त सूचना के आधार पर सबसे पहले अर्जुन मुंडा की गिरफ्तारी तोरपा के समीप चुरकी नदी के पास एक बस में छापेमारी कर की। पुलिस की पूछताछ में उसने बताया कि पीएलएफआई उग्रवादी माईकल गुड़िया और मुकेश चीक बड़ाईक और पंकज महतो के साथ मिल कर आनंदपुर क्षेत्र में जमीन विवाद में पैसे को लेकर हत्या की योजना बनाई है, जिसे अंजाम देने के लिए रांची से रनिया जा रहे थे। रांची से आने जाने के लिए खर्चा-पानी सुरेंद्र चीक बड़ाईक ने दिया था।

इनकी हुई गिरफ्तारी

गिरफ्तार आरोपियों में रांची सिकिदरी थाना क्षेत्र के आगरटोली निवासी अर्जुन मुंडा, गुमला के बसिया थाना क्षेत्र का लाबाकेरा निवासी मुकेश चीक बड़ाईक, सिमडेगा जिले के बानो थाना क्षेत्र के बिरता निवासी सुरेंद्र बड़ाईक, रांची अनगड़ा थाना क्षेत्र के बुकी बल्लौटा निवासी पंकज महतो और चाईबासा जिले आनंदपुर थाना क्षेत्र का सौदा उपरटोली निवासी माईकल गुड़िया शामिल हैं।

बताया जाता है कि मुकेश का आपराधिक इतिहास रहा है। उसके खिलाफ हत्या, रंगदारी, अपहरण, लेवी वसूली, आर्म्स एक्ट, 17 सीएलए सहित अन्य संगीन मामलों में गुमला जिले के पालकोट, बसिया और कमडारास थाना में पहले से ही सात मामले दर्ज हैं। माइकल गुड़िया भी पहले जेल जा चुका है।

यह मी पढ़ें-झारखंड के पूर्व मंत्री समरेश सिंह का निधन

By Admin

error: Content is protected !!