पाकुड़ जिला को स्कॉच अवार्ड में मिला सिल्वर मेडल

पाकुड़:  जिला को स्कॉच अवार्ड में देशभर में सिल्वर मेडल प्राप्त हुआ है। पाकुड़ जिला को यह अवार्ड लिट्टीपाड़ा प्रखंड के प्रखंड परिसर में स्थित ‘गुतू गलांग कल्याण ट्रस्ट’ के लिए दिया गया है। इस अवार्ड के लिए फाइनल राउंड में देश भर की कुल 38 परियोजनाएं शामिल थीं, जिनका फाइनल प्रस्तुतिकरण दिनांक 17 अगस्त 2022 को किया गया। इसमें पाकुड़ को डिस्ट्रिक्ट गवर्नेंस कैटेगरी में सिल्वर मेडल मिला। इसके लिए ऑनलाइन वोटिंग हुई थी जिसकी अंतिम तिथि 17 अगस्त 2022 तक (3.30 बजे अपराह्न) थी।

स्कॉच अवार्ड के लिए मार्च 2022 में प्रविष्टियां मांगी गई थी, जिसमें उपायुक्त श्री वरुण रंजन के निदेशानुसार ‘गुतू गलांग ट्रस्ट’ का नाम इस अवार्ड के लिए भेजा गया था।

विशिष्ट जनजाति की महिलाओं द्वारा चलाई जा रही इस तरह का यह पहला ट्रस्ट है जिसका निबंधन दिसम्बर 2019 में डाकिया योजना अंतर्गत बोरा सिलाई के लिए किया गया था उसके उपरांत 5000 परिवारों के साथ बरबटी की खेती और उसका प्रोसेसिंग का वैल्यू चेन, अरहर एवं बाजरा की प्रोसेसिंग यूनिट आदि क्षेत्रों में भी कार्य कर रही है। वर्तमान में 29 दीदियों को डायरेक्ट रोजगार उपलब्ध कराया जा रहा है। चार लाख की सहायता से शुरू की गई इस ट्रस्ट का टर्न ओवर दो करोड़ से अधिक का है। यहाँ तैयार किये गए बोरे की आपूर्ति झारखंड के सभी जिलों में की जाती है। विशिष्ट जनजाति के परिवारों के रोजगार दिलाने वाली यह योजना जिला प्रशासन एवं जेएसएलपीएस का एक अभिनव प्रयोग है जिसकी स्कॉच अवार्ड के ज्यूरी सदस्यों द्वारा भरपूर सराहना की गई।

स्कॉच अवार्ड में सिल्वर मेडल की उपलब्धि पर उपायुक्त वरुण रंजन ने पूरे जिला प्रशासन की टीम के साथ-साथ जिला कार्यक्रम प्रबंधक एवं जेएसएलपीएस की पूरी टीम साथ मे गुतू गलांग के अध्यक्ष, सचिव एवं सभी सदस्यों को बधाई एवं शुभकामनाएं दी है।

By Admin

error: Content is protected !!