सीसीएल की स्वतंत्र निदेशक ने सीसीएल बरकासयाल प्रक्षेत्र का किया दौरा

पोटंगा पुनर्वास स्थल का निरीक्षण कर सुनी ग्रामीणों की समस्या
भुरकुंडा : सीसीएल की स्वतंत्र निदेशक जजुला गौरी सोमवार को सीसीएल बरकासयाल पहुंची। जहां उन्होंने पोटंगा पुनर्वास स्थाल न्यू बरटोला फर्म हाऊस का निरीक्षण किया। इस अवसर पर सेन्ट्रल कोलफिलड लिमिटेड के स्वतंत्र निदेशक जजुला गौरी ने क्षेत्र का भ्रमण किया। साथ ही स्थानीय महिलाओं की समस्या , पुनर्वास स्थाल में विकास की कमी, महिलाओं की सुविधा, रोजगार, विस्थापित बच्चों की पढ़ाई , सड़क, बिजली की आपूर्ति, पेयजल की सुविधा सहित अन्य समस्या को लेकर ग्रामीणों से जानकारी ली। इस दौरान स्थानीय महिलाओं ने बताया कि सीसीएल ग्रामीणों की समास्या से वंचित रख रही है। प्रबंधन हमेशा ग्रामीणों से वादा खिलाफी करते आ रही है । हमलोगों को पीने के पानी के लिए दर-दर भटकना पड़ता है। जबकी हमारा सारा जमीन विकास के नाम पर सीसीएल ने अधिग्रहित कर लिया है। ग्रामीणों ने बताया कि प्रबंधन ठगने का काम किया है। इस दौरान पोटंगा पंचायत के उप मुखिया रविन्द्र सोरेन ने सड़क, बिजली, पेयजल, रोजगार स्वास्थ्य केंद्र में डॉक्टरों की नियुक्ति को लेकर ज्ञापन सौंपा। बिनोद हेंब्रोम ने रैयत युवा विस्थापित श्रमिक स्वालम्बी सहकारी समिति लिमिटेड पोटंगा के मध्यम से पोटंगा के बेरोजगार विस्थापितों के लिए ठेका कार्य में प्राथमिकता के आधार पर रोजगार का मॉंग किया । मौके पर उपस्थित पंचायत पोटंगा उप मुखिया रविन्द्र सोरेन पंसंस बभनी देवी वार्ड, सदस्य फूलमती देवी, तलमी देवी, क्रांति किस्कू, कर्मी देवी, सावित्री देवी, सपना देवी, अनीता हॅंसदा, ममता देवी, पूनम देवी, अनीता देवी, सरिता देवी, सुशीला देवी,सोनमति देवी, डोढ़को देवी,लीलमुनी देवी, तालोमुनी देवी, सावित्री देवी बिनोद हेंब्रोम, सन्नी सोरेन, आनंद बेसरा, सुखराम बेसरा,रमेश हॉंसदा, पप्पुलाल मॉंझी, सुरेश हेम्ब्रोम,साहिल हेम्ब्रोम सहित अन्य शामिल थे।

By Admin

error: Content is protected !!