झारखंड प्रदेश कांग्रेस कमेटी ने “न्याय यात्रा” का स्टीकर किया जारी

जन-जागरण के लिए निकलेगी कांग्रेस की न्याय यात्रा: राजेश ठाकुर

रांची: झारखंड प्रदेश कांग्रेस कमेटी के तत्वावधान में रविवार को कांग्रेस भवन में संवाददाता सम्मेलन का आयोजन किया गया। जिसमें प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष राजेश ठाकुर और मंत्री आलमगीर आलम ने संयुक्त रूप से संबोधित किया। अवसर पर प्रदेश कांग्रेस कमेटी के संगठन प्रभारी अमूल्य नीरज खलखो, मीडिया प्रभारी राकेश सिन्हा, मीडिया चेयरमैन सतीश पॉल मुंजनी, प्रवक्ता रियाज अंसारी उपस्थित थे।

प्रेस कांफ्रेंस में प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष ठाकुर ने कहा कि भारत जोड़ो न्‍याय यात्रा देश के सामाजिक, आर्थिक और राजनीतिक, तीनों विषयों, देश के बुनियादी मुद्दों पर हम ये यात्रा निकाल रहे हैं। पहले हमारी भारत जोड़ो यात्रा कन्‍याकुमारी से कश्‍मीर तक हुई और अब मणिपुर से लेकर मुम्बई तक यात्रा होने जा रही है।

Jharkhand Pradesh Congress Committee released Nayay Yatra sticker

उन्होंने कहा कि भारत जोड़ो न्याय यात्रा 6,700 किलोमीटर की दूरी तय करेगी, जो 100 लोकसभा सीटों और 337 विधानसभा की सीटों से होकर 20 मार्च तक यात्रा विभिन्न राज्यों से होकर गुजरेगी। झारखण्ड में यह यात्रा 804 कि.मी. की दूरी आठ दिनों में तय करेगी। यह यात्रा झारखण्ड में दो चरणों में होगी। कहा कि आज हम ‘‘भारत जोड़ो न्याय यात्रा हक मिलने तक’’ का स्टीकर जारी कर रहे हैं, जो विभिन्न जिलों में नेताओं एवं कार्यकर्ताओं के माध्यम से दो पहिया, चार पहिया वाहनों में लगायी जायेगी ताकि ज्यादा से ज्यादा लोग राहुल जी के भारत जोड़ो न्याय यात्रा में शामिल हो सके।

प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि प्रधानमंत्री देश के महत्वपूर्ण मुद्दे जैसे बेरोजगारी, मंहगाई, महिलाओं पर अत्याचार, किसानों एवं खिलाड़ियों पर हो रहे अत्याचार से ध्यान भटकाने का प्रयास करते रहते हैं। लगभग दस साल होने जा रहे हैं, परन्तु अबतक उन्होंने किसी संवाददाता सम्मेलन को सम्बोधित नहीं किया। अंतिम संवाददाता सम्मेलन देश के पूर्व प्रधानमंत्री डॉ. मनमोहन सिंह ने किया था। वो ऐसा नहीं कर रहे हैं, इसीलिए जन जागरण करने के लिए ही हम भारत जोड़ो न्याय यात्रा निकाल रहे हैं।

वहीं कांग्रेस विधायक दल के नेता आलमगीर आलम ने कहा कि हमारे सांसदों ने पार्लियामेंट में इन मुद्दों को उठाने की कोशिश की, लेकिन वहां पर सरकार ने हमें मौका नहीं दिया और 146 सांसदों को निलंबित कर दिया गया। इस देश के इतिहास में ये पहली बार है कि इतने लोगों को निलम्बित किया गया और इतने लोगों की बात नहीं सुनी गयी। इसीलिए, अब हम लोगों को भारत जोड़ो न्याय यात्रा के माध्यम से ये बताने जा रहे हैं। 

उन्होंने कहा कि हम चाहते हैं कि लोकतंत्र को जिंदा रखने के लिए संविधान को जिंदा रखने के लिए ये जरूरी है कि यात्रा के माध्‍यम से सामाजिक, आर्थिक, राजनीतिक और जनता के मूल सवालों जैसे महंगाई, बेरोजगारी, किसानों के मुद्दे, मजदूरों की बुरी हालत, अमीर-गरीब की बढ़ती खाई और जातिगत जनगणना आदि पर जन-जागरण करेंगे। इस यात्रा के दौरान राहुल गांधी समाज के विभिन्‍न वर्गों से, विभिन्‍न क्षेत्रों के लोगों से, संगठनों से बात करेंगे, उनकी बात समझेंगे और उसके समाधान का प्रयास करेंगे।

 

By Admin

error: Content is protected !!