जर्जर सड़क से गोनिया और आसपास के लोगों को हो रही परेशानी

बारियातू (लातेहार)। बारियातू प्रखंड अंतर्गत गोनिया से राजगुरु शिबला जाने वाली पक्की सड़क बेहद जर्जर हो चुकी है। इससे आवागमन में लोगों को काफी परेशानी उठानी पड़ रही है। बावजूद इसके सड़क की मरम्मती नहीं हो रही है।
<span;> जीरा आहर के पास सड़क की दुर्दशा साफ देखी जा सकती है। जहां सड़क नाम पर गड्ढे और पत्थर बचे हुए हैं। बताया जाता है कि सड़क 10 वर्ष पहले बनी थी। इसके बाद सड़क की कभी मरम्मती तक नहीं हो सकी। आज स्थिति यह है कि सकड़ पर आवगमन में लोगों को कठिनाई का सामना करना पड़ रहा है। क्षेत्र के जीतेन्द्र कुमार सिंह उर्फ जीवन, दीपू कुमार, अरुण कुमार, राजेश मिस्त्री, शंकर विश्वकर्मा, किशुन कुमार, कुलेश्वर कुमार गंझू, भींनसरी गंझू सहित अन्य ग्रामीणों का कहना है कि बेसरा, कुशमाहा, मकरा, सिबला, राजगुरु, बिश्रामपुर सहित अन्य गांव के ग्रामीणऑटो, बाइक, साईकिल व अन्य छोटे वाहन से गोनिया प्रतिदिन आना जाना करते है। जिन्हें जीरा आहर से तीन किमी तक जर्जर पक्की सड़क से गुजरना पड़ता है। सड़क इतनी जर्जर हो गई है कि बाइक से तीन किमी दूरी तय करने में दस से पंद्रह मिनट का समय लग जाता है। साथ ही दुर्घटना की भी संभावना बनी रहती है। ग्रामीणों ने यह भी बताया कि गोनिया टमाटर मंडी के हब के रूप जाना जाता है। दो माह पश्चात टमाटर की बिक्री गोनिया में प्रतिदिन शुरू हो जाएगी।गोनिया में प्रतिदिन बिहार, उड़ीसा, यूपी, बंगाल सहित अन्य राज्यो से व्यपारी टमाटर खरीदने पहुंचेंगे। ऐसे में सड़क जर्जर खराब रहने से किसानों को टमाटर लेकर आवागमन में काफी परेशानी का सामना करना पड़ेगा। ग्रामीणों ने स्थानीय विधायक सांसद, उपायुक्त व सड़क निर्माण विभाग के अधिकारियों से सड़क निर्माण करवाने की मांग किया है।

By Admin

error: Content is protected !!