देवघर पहुंचे प्रधानमंत्री, झारखंंड को दी योजनाओं की सौगात

झारखंड का सपना अब पूरा हो रहा: प्रधानमंत्री

> देवघर हवाई अड्डा और एम्स का किया लोकार्पण

>16835 करोड़ की योजनाओं का लोकार्पण और शिलान्यास

देवघर : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मंगलवार को बाबा नगरी देवघर पहुंचे। जहां उन्होंने 654 करोड़ की लागत से बने देवघर एयरपोर्ट और 1103 करोड़ की लागत से बने देवघर एम्स सहित कई योजनाओं का लोकार्पण और शिलान्यास किया। प्रधानमंत्री के झारखंड पहुंचने पर झारखंंड के राज्यपाल रमेश बैस और मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने एयरपोर्ट पर उनका स्वागत किया। योजनाओं के लोकार्पण और शिलान्यास समारोह में मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने शॉल ओढ़ाकर और प्रतीक चिन्ह देकर प्रधानमंत्री का अभिनंदन किया।प्रधानमंत्री के साथ मंच साझा करनेवालों में झारखंंड के राज्यपाल रमेश बैस, मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन, केंद्रीय उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया, केंद्रीय मंत्री अर्जुन मुंडा, सांसद निशिकांत दूबे, विधायक बादल पत्र लेख सहित अन्य मौजूद रहे।

प्रधानमंत्री ने देवघर में 16835 करोड़ की लागत से झारखंंड राज्य में एयर, रेल, रोड कनेक्टिविटी की दिशा में कई बड़ी और महत्वपूर्ण योजनाओं का लोकार्पण किया। इसके साथ ही देवघर एयरपोर्ट और एम्स की सुविधा अब आम लोगों के लिए शुरू कर दी गई है। प्रधानमंत्री ने सड़क, स्वास्थ्य और उर्जा पर आधारित कई महत्वपूर्ण 13 योजनाओं का लोकार्पण और 12 योजनाओं का शिलान्यास किया।

योजनाओं से बदल रही है झारखंंड की तस्वीर : प्रधानमंत्री

अपने संबोधन में प्रधानमंत्री ने कहा कि बाबाधाम आकर मन प्रसन्न हो गया है। देवघर एयरपोर्ट और अन्य प्रोजेक्ट का सपना लंबे समय से देख रहा था। आज यह सपना भी साकार हो रहा है। इन योजनाओं से झारखंंड को आधुनिक कनेक्टिविटी, उर्जा, स्वास्थ्य, आस्था और पर्यटन को बहुत बल मिलनेवाला है। इन प्रोजेक्ट से झारखंड के लाखों लोगों का जीवन आसान होगा। व्यापार और कारोबार के लिए, टूरिज्म के लिए, रोजगार-स्वरोजगार के लिए भी अनेक नये अवसर बनेंगे। प्रधानमंत्री ने कहा की 400 नए रूटों पर अब यात्री कुर्सी की पेटी बांधना सीखने लगे हैं। देवघर से कोलकाता के लिए उड़ान भी शुरू हो गई है। उन्होंने कहा कि आदिवासी क्षेत्र में आधुनिक सुविधा से तस्वीर बदल रही है। हम अभाव को अवसर में बदल रहे हैं। जंगल और पहाड़ी क्षेत्रों से घिरे दुर्गम जनजातीय क्षेत्रों पर हमारा विशेष ध्यान है। खासकर दुर्गम इलाकों में आदिवासी समाज के घरों में  पाइपलाइन से गैस और पानी पहुंचाने का काम भी शुरू हो गया है। देवघर एम्स की सुविधा का लाभ झारखंड के साथ-साथ बिहार और बंगाल के जनजातीय लोगों को भी मिलेगा।

प्रधानमंत्री ने वर्षों का सपना पूरा किया : हेमंत सोरेन

अपने संबोधन में सीएम हेमंत सोरेन ने कहा कि प्रधानमंत्री ने झारखंड के लोगों को कई महत्वपूर्ण योजनाओं की सौगात दी है। इसके लिए उनका धन्यवाद। कहा कि राज्य के विकास में मार्गों की अहम भूमिका होती है। फिर चाहे वह सड़क मार्ग हो, रेल मार्ग या फिर हवाई मार्ग। देवघर एयरपोर्ट का सपना हमलोगों ने 2010 में देखा था। प्रधानमंत्री ने उस सपने को पूरा किया है। यह संथाल परगना सहित पूरे झारखंंड के विकास के में मील का पत्थर साबित होगा। एयरपोर्ट के 600 एकड़ से ज्यादा जगह के लिए जिनकी जमीन अधिग्रहित हुई, उनका बहुत भी आभार है। हेमंत सोरेन ने कहा कि झारखंंड वर्षों से देश को आगे बढ़ाने में पूरा योगदान दे रहा है। केंद्र सरकार आगे भी सहयोग करे तो निश्चित रूप से झारखंंड पांच-छह वर्ष में अग्रणी राज्यों में शुमार होगा।

ये भी पढ़े : –https://khabarcell.com/jharkhand/modi-becomes-the-first-pm-to-offer-prayers-at-baba-baidhanaths-temple/

By Admin

error: Content is protected !!