विचाराधीन कैदियों को मुक्त करने हेतु पुनरीक्षण समिति ने की बैठक 

साहेबगंज: जिले के जेल में लम्बे समय से बंद विचाराधीन बंदियों को मुक्त करने हेतु पुनरीक्षण समिति की दूसरी बैठक आज जिला विधिक सेवा प्राधिकार, साहेबगंज के अध्यक्ष सह प्रधान जिला एवं सत्र न्यायाधीश श्री मनोज कुमार सिंह की अध्यक्षता में व्यवहार न्यायालय स्थित उनके कार्यालय कक्ष में की गई। बैठक में उपायुक्त राम निवास यादव, पुलिस अधीक्षक अनुरंजन किसपोट्टा, जेल अधीक्षक सह अनुमंडल पदाधिकारी, राजमहल रोशन कुमार साह, जेल अधीक्षक, मंडल कारा संजय कुमार उपस्थित थे।

इस बैठक मेंबीते 25 जुलाई को हुई बैठक में लिए गए निर्णयों की समीक्षा की गई। पिछली बैठक में कुल 31 विचाराधीन बंदियों को मुक्त करने की अनुशंसा की गई थी। आज की बैठक में राजमहल उपकारा में बंद विचाराधीन बंदियों को मुक्त करने हेतु समीक्षा की गई जिसमें विचारोपरांत लगभग 19 विचाराधीन बंदियों को मुक्त करने हेतु अनुशंसा योग्य पाया गया।

समिति द्वारा महिला, बीमार व बुजर्ग बंदियों को विशेष रूप से मुक्त किये जाने पर भी विचार किया गया । जिला विधिक सेवा प्राधिकार, साहेबगंज के सचिव सह वरीय सिविल जज धर्मेन्द्र कुमार ने बैठक का संचालन करते हुए बताया की मंडल कारा, साहेबगंज एवं उपकार राजमहल में लगभग 312 विचाराधीन बंदी हैं जिसमें 16 महिलाएं हैं । अधिकतर बंदियों का केस अभी अनुसन्धान अंतर्गत लंबित है । समिति की अगली बैठक 8 अगस्त 2022 को निर्धारित की गई है ।

By Admin

error: Content is protected !!