महादलितों के प्रति राज्य सरकार की नीयत में है खोट : दीपक प्रकाश

महादलितों की घटना को लेकर भाजपा प्रदेश अध्यक्ष ने की प्रेसवार्ता

रांची : प्रदेश भाजपा कार्यालय में शनिवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस का आयोजन किया गया। जिसमें प्रदेश अध्यक्ष सह राज्य सभा सांसद दीपक प्रकाश ने कहा कि पलामू जिला के पांडू प्रखंड स्थित मुरूमातू गांव में जो घटना हुई है। वह मर्माहत करने वाली है। हमने भाजपा के एक प्रतिनिधिमंडल ने वहां जाकर सामने से वहां कि स्थिति को देखा है। प्रतिनिधिमंडल में राज्य सभा सांसद आदित्य साहू , प्रदेश महामंत्री बालमुकुंद, विश्रामपुर के विधायक रामचंद्र चंद्रवंशी, पलामू के विधायक आलोक चौरसिया, छतरपुर विधायिका पुषा देवी, भाजयुमो प्रदेश अध्यक्ष किसलय तिवारी सहित भाजपा के सैंकड़ों कार्यकर्ता मौजूद रहे।
दीपक प्रकाश ने कहा कि कई पुश्तों से वहां रहते रहे महादलितों अपने दर्द को बयां किया। एक समाज विशेष के लोगों ने महादलित जितेंद्र को बुलाकर एक घंटे के अंदर गांव छोड़ने की धमकी दी। महादलितों ने कहा कि यहां हमारा घर है। हम गरीब कहां जाएंगे। तब वहां के आपराधिक प्रवृत्ति के मुखिया इसरार अहमद, जो की कांंग्रेस का सक्रिय कार्यकर्ता है, उसके नेतृत्व में महादलित परिवारों के छोटे-छोटे कई बच्चों का अपहरण कर छतरपुर की ओर एक जंगल में फेंकने का काम किया। फेंक जाने से बच्चे घायल भी हुए हैं।
इसके बाद जेसीबी से महादलितों के घरों के साथ भगवान शिव के मंदिर को तोडकर समतल करने का काम किया गया। यह जघन्य और राष्ट्र विरोधी अपराध है।महादलित परिवार समेत पुराने थाना के जर्जर भवन में रह रहे हैं।
प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि महादलितों और आदिवासियों को वोट बैंक समझनेवाली कांग्रेस के लोग महादलितों पर अत्याचार कर रहे हैं और कांग्रेस के एक पूर्व मंत्री घड़ियाली आंसू बहा रहे हैं, वह भी महादलितों की बजाय अपराधियों के पास जाकर । महादलितों के प्रति इस राज्य सरकार की नीति और नीयत में खोट है।
भाजपा प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि महादलितों को उनकी पुश्तैनी जमीन पर फिर से बसाया जाए। उन्हें आवासीय योजनाओं से घर बनाकर दिया जाए। उन्हें रोजगार मुहैया कराया जाए।  सभी अपराधियों चाहे उस गांव रहनेवाले पुरूष हो या महिला सभी पर मुकदमा दर्ज कर सरकार कड़ी से कड़ी सजा दिलाये।
आगे उन्होंने कहा कि राज्य में इन दिनों जो घटनाएं घट रही है वह चिंताजनक है। इस सरकार के कार्यकाल में बांग्लादेशियों की काफी घुसपैठ हुई है। पीएफआई और अंसार बांग्ला जैसे संगठन के स्लीपर सेल सक्रिय हुये हैं। सुनियोजित ढंग से बड़े पैमाने पर धर्म परिवर्तन कराने का काम हो रहा है। भाजपा इसका विरोध करती है और राज्य सरकार से कार्रवाई की मांग करती है।

By Admin

error: Content is protected !!