रामगढ़: सीसीएल की बलकुदरा खुली खदान पर धरना-प्रदर्शनAgitation on CCL's Balakudra opencast mine

आदिवासी मूलवासी रैयत विस्थापित संघ का आंदोलन प्रबंधन के आश्वासन के बाद स्थगित

रामगढ़ :  ट्रांसपोर्टिंग और लोकल सेल सहित अन्य मांगों को लेकर आदिवासी मूलवासी रैयत विस्थापित संघ ने बुधवार को सीसीएल की बलकुदरा ओपेन कास्ट माईंस पर एक दिवसीय धरना किया।

संघ ने ट्रांसपोर्टिंग का काम रैयतों को देने और लोकल सेल शुरू कराने सहित कई मांगों को लेकर प्रबंधन और आउटसोर्सिंग कंपनी के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। जिसके बाद सीसीएल भुरकुंडा परियोजना के प्रोजेक्ट ऑफिसर मनोज कुमार पाठक ने संघ के पदाधिकारियों से तकरीबन दो घंटे बात की।  पीओ ने संघ की मांगों पर जल्द ही त्रिपक्षीय वार्ता कर उचित पहल करने का आश्वासन दिया। जिसपर संघ ने सहमति जताते हुए आंदोलन वापस ले लिया।

वहीं संघ के अध्यक्ष झरी मुंडा ने कहा कि बलकुदरा माइस में ट्रांसपोर्टिंग का काम रैयत और विस्थापितों को  दिया जाए। साथ ही यहां लोकल सेल चालू कर रैयतों और विस्थापितों को रोजगार मुहैया कराया जाए। सभी मांगों पर पहल नहीं हुई तो संघ आंदोलन को तेज करेगा।
धरना-प्रदर्शन में उपाध्यक्ष नंदकिशोर मुंडा, संयोजक देवेंद्र प्रसाद, सचिव संतोष कुमार, ललिता देवी, विभा कुमारी, माधुरी देवी, मुन्ना मुंडा, विनय मांझी, सरिता देवी, फुल मनी देवी, मुंगिया देवी, अनीता देवी, लक्ष्मी एक्का, विजय मांझी, वीरेंद्र मुंडा, मंटू मुंडा, पवन, विनय, दीपक बैजनाथ, सुनील करमाली, करण साव, संजय कुमार, चंचला कुमारी, सूरज, विशाल सहित अन्य शामिल रहे।

By Admin

error: Content is protected !!