26 वीं वाहिनी सशस्त्र सीमा बल ने मनाया 17 वां स्थापना दिवस26th Vahini Sashastra Seema Bal celebrates 17th Raising Day

पूरे जोश और उत्साह में दिखे जवान

रांंची: 26 वीं वाहिनी सशस्त्र सीमा बल ने मुख्यालय परिसर अनगड़ा में वाहिनी का 17 वां स्थापना दिवस बुधवार को मनाया। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि कमाण्डेन्ट एस.डी. शेरखाने उपस्थित थे। द्वितीय कमान अधिकारी सचिन कुमार ने मुख्य अतिथि कमाण्डेन्ट एस.डी. शेरखाने को पुष्प देकर स्वागत और अभिनंदन किया। कार्यक्रम में मुख्य अतिथि कमाण्डेन्ट एस.डी. शेरखाने के साथ मेडिकल कमांडेंट डॉ उर्मिला गाड़ी, कमांडेंट पशु चिकित्सक डॉ जे.के.शर्मा, द्वितीय कमान अधिकारी सचिन कुमार, मेडिकल 2I/सी डॉ ब्रजेश कुमार, उप कमांडेंट विजयेन्द्र कुमार, उप–कमांडेंट दिनेश कुमार, सहायक कमांडेंट सिद्धार्थ आर भी उपस्थित थे।

26th Vahini Sashastra Seema Bal celebrates 17th Raising Dayमुख्य अतिथि कमाण्डेन्ट एस.डी. शेरखाने ने कार्यक्रम के दौरान वाहिनी के गौरवशाली इतिहास के बारें में बताया कि वाहिनी की स्थापना 14 दिसंबर 2005 ललौरी खेड़ा, जिला पीलीभीत (ऊ.प्र.) में हुआ था। 16 अगस्त 2016 को वाहिनी ने 49 वीं वाहिनी से नक्सल विरोधी अभियान के संचालन की जिम्मेदारी संभाली। अपने नक्सल विरोधी अभियान के दौरान वाहिनी ने 136 नक्सलियों की गिरफ्तारी की, 1328 एकड़ अफीम की खेती नष्ट किया, 10039 किलोग्राम
डोडा जब्त किया एवं कई अन्य उपलब्धियां हासिल किया।

कमाण्डेंट एस.डी. शेरखाने ने बताया कि वाहिनी ने विभिन्न जन कल्याणकारी कार्यक्रमों के माध्यम से स्थानीय जनता को मूलभूत सुविधाएं प्राप्त करने में अहम योगदान निभाया है। कार्यक्रम को आगें बढ़ाते हुए महिलाएं एवं बच्चों के लिए विभिन्न खेल प्रतियोगिताओं का आयोजन किया गया एवं जीतने वाले प्रतियोगियों को पुरस्कारों से सम्मानित किया गया। स्थापना दिवस पर अंतर समवाय खेलो का भीं आयोजन किया गया। जिसमें डोंगीरडीह, मुख्यालय एवं हुंट समवाय विजेता रही।

इस दौरान मुख्य आकर्षण 26 वीं वाहिनी का स्वान दस्ता रहा जिसमे स्वान दस्ते ने विभिन्न बाधाओं को पार किया एवं कई मनोरंजक प्रदर्शन किए। स्थापना दिवस के मौके पर कमांडेंट एस.डी. शेरखाने ने कई जवानों को उनके उत्कृष्ट कार्य के लिए प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया।

कार्यक्रम में अधिकारियों और जवानों के परिवारों के अलावा सिल्ली डीएसपी क्रिस्टोफर केरकेट्टा, चिलदाग स्कूल की प्रधानाचार्य संगीता कुमारी रवि एवं दर्पण सेवा संस्था के संस्थापक एवं सचिव मंतोष कुमार और कंपनी के जवान उपस्थित थे।

By Admin

error: Content is protected !!