केरेडारी में अस्ताचलगामी सूर्य को छठव्रतियों ने दिया अर्घ्यChhathvratis offered arghya to the setting sun in Keredari.

हजारीबाग: लोक आस्था और उपासना के महापर्व छठ के पावन अवसर पर केरेडारी प्रखण्ड के सभी छठ घाटों में अस्ताचलगामी भगवान भास्कर को अर्घ्य दिया गया। वहीं बेंगवरी छठ घाट में भी बड़ी संख्या छठव्रतियों एवं हजारों श्रद्धालुओं ने भगवान भास्कर को अर्घ्य दिया।

बताते चले की चार दिवसीय महापर्व छठ का आज तीसरा दिन है, आज के दिन डूबते हुए सूर्य देवता को अर्घ्य देने का अनुष्ठान है, आज के दिन को कार्तिक षष्टी भी कहा जाता है। लोक आस्था के महापर्व छठ की शुरुआत परसों नहाय खाय से शुरू हो गई है।

यह पर्व मुख्य रूप से बिहार झारखंड और पूर्वी यूपी में मनाया जाता है, लेकिन अब इसकी मान्यता और प्रसिद्धि धीरे-धीरे देश के कोने कोने में फैल रही है। इसे छठ महापर्व की अलौकिकता ही कहेंगे की इसके नियम निष्ठा को करीब से देखने वालों की आस्था इसमें जागृत हो उठती है!

By Admin

error: Content is protected !!