चतरा : उपायुक्त ने की श्रम नियोजन प्रशिक्षण एवं कौशल विकास विभाग की समीक्षा

उपायुक्त ने श्रमिकों को योजनाओं का लाभ दिलाने का दिया निर्देश

चतरा : समाहरणालय स्थित कार्यालय कक्ष में उपायुक्त अबु इमरान ने जिले के श्रमिकों को विभिन्न लाभकारी योजनाओं का लाभ दिलाने के उद्देश्य  श्रम नियोजन प्रशिक्षण एवं कौशल विकास के कार्यों की समीक्षा की। समीक्षा में मुख्यतः श्रमिकों के लिए लाभकारी योजनाएं, प्रवासी श्रमिक, कौशल विकास, नियोजनालय, आईटीआई से संबंधित विषयों पर गहन समीक्षा की गई।

उपायुक्त ने मुख्य रूप से श्रम विभाग के केंद्रीय एवं राज्य योजनाओं की समीक्षा, मातृत्व प्रसुविधा योजना, मेधावी पुत्र पुत्री छात्रवृत्ति योजना, अंत्येष्टि सहायता योजना, रोजगार प्रशिक्षण योजना, समेकित आम आदमी बीमा योजना, चिकित्सा सहायता योजना, विवाह सहायता योजना, झारखंड निर्माण कर्मकार मृत्यु या दुर्घटना सहायता योजना, निर्माण श्रमिक सेफ्टी किट योजना, श्रमिक मित्र योजना, प्रशासनिक व्यय, अंत्येष्टि सहायता, प्रवासी मजदूरों का स्किल मैपिंग, प्रवासी मजदूरों की संख्या तथा उनका रजिस्ट्रेशन, वापस गए प्रवासी मजदूरों की संख्या, दूसरे देशों में श्रमिक की संख्या, शर्ट पैंट साड़ी योजना अंतर्गत शिविर आयोजन, वर्ष 2022-23 को प्राप्त आवंटन, सभी योजनाओं का दिनांक 01/04 /2021 को अवशेष आवंटन, प्रत्यर्पण का कारण, आवंटन तथा खर्च समेत अन्य पर जानकारी लेते हुए कई आवश्यक निर्देश दिए।

वहीं उपायुक्त ने नियोजन पदाधिकारी से भारती कैम्प/ रोजगार मेला के विषय पर भी जानकारी लिया एवं कई आवश्यक निर्देश दिया। बैठक में उपायुक्त ने श्रम विभाग के कार्यों को दुरुस्त करने का निर्देश दिया। उपायुक्त ने स्पष्ट रूप से कहा कि सभी जन कल्याणकारी योजनाओं का लाभ योग्य लाभुकों को मिले यह सुनिश्चित किया जाए। उपायुक्त ने सभी सरकारी योजनाओं का प्रचार प्रसार के माध्यम से आमजनों को जागरूक कराने का निर्देश दिया। जिससे योजनाओं का लाभ अधिक से अधिक योग्य लाभुकों को दिया जा सके। इस बैठक में मुख्य रूप से उप विकास आयुक्त, उत्कर्ष गुप्ता, निदेशक डीआरडीए, अरुण कुमार एक्का, जिला श्रम अधीक्षक, अरविंद कुमार, जिला नियोजन पदाधिकारी, मन्नु कुमार समेत अन्य संबंधित उपस्थित थे।

 

By Admin

error: Content is protected !!