ग्राम सभा सशक्त किये बिना पंचायत का विकास की परिकल्पना नहीं की जा सकती : डॉ. चन्द्रशेखर प्राण

• खूंटी में पंचायत जनप्रतिनिधियों का एक दिवसीय कार्यशाला सम्पन्न

खूंटी : जिला स्तरीय पंचायत जनप्रतिनिधियों का एक दिवसीय कार्यशाला सैलेश्वरी भवन सभागार खूंटी में गुरुवार को आयोजित किया गया। कार्यशाला में बतौर मुख्य अतिथि तीसरी सरकार अभियान के संस्थापक डॉ चन्द्रशेखर प्राण उपस्थित थे। मौके पर तीसरी सरकार अभियान के संस्थापक डॉ चन्द्रशेखर प्राण ने कहा कि ग्राम सभा सशक्त किये बिना पंचायत का विकास की परिकल्पना नहीं की जा सकती है। उन्होंने पंचायत राज अधिनियम की विभिन्न धाराओं पर चर्चा की तथा पंचायत को सशक्त बनाने पर जोर दिया।

पंचायती राज के विशेषज्ञ सुधीर पाल ने झारखंड पंचायत राज अधिनियम 2001 के तहत् पंचायत प्रतिनिधियों के प्राप्त अधिकार तथा उनके कर्तव्य पर जोर दिया। पंचायत राज विभाग के मास्टर ट्रेनर अनिल भगत ने पंचायतों को दी गई शक्तियों तथा उनकी कार्यशैली पर विशेष जोर देते हुए पंचायत को सशक्त करने पर जोर दिया। धन्यवाद ज्ञापन सैलेश्वरी देवी के द्वारा किया गया।

कार्यशाला में मुख्य रूप से रनिया जिला परिषद् सदस्य विरेन लुगून, तोरपा जिला परिषद् सदस्य सुशांती कोनगाड़ी, पूर्व जिला परिषद् सदस्य तोरपा जयमंगल गुड़िया, खुंटी उपप्रमुख शांति देवी, तोरपा उपप्रमुख संतोष कर, पूर्व उपप्रमुख खुंटी जितेन्द्र कश्यप, कृतिका कुमारी, प्रदीप गुड़िया, सैलेश्वरी देवी, नूतन डोडराय, समाजसेवी रौशन सहित कई पंचायत प्रतिनिधि मौजूद थे।

By Admin

error: Content is protected !!