‘हिट एंड रन’ के नये कानून में अविलंब संशोधन हो : धर्मेंद्र तिवारीFILE PHOTO

भारतीय जनतंत्र मोर्चा के केंद्रीय अध्यक्ष ने बयान जारी कर दी प्रतिक्रिया 

रांची: भारतीय जनतंत्र मोर्चा के केंद्रीय अध्यक्ष धर्मेंद्र तिवारी ने सरकार द्वारा लाये नये ‘हिट एंड रन’ कानून की तीखी आलोचना की है। उन्होंने कहा कि इस कानून से ट्रक-बस चालकों में भ्रम की स्थिति पैदा हो गई है। इस संबंध में धर्मेंद्र तिवारी ने मंगलवार को बयान जारी कर कहा कि कानून बनाने में कोई दिक्कत नहीं है, लेकिन उसे बनाते वक्त सामाजिक संरचना पर ध्यान देना चाहिए था। इस कानून में उस पर ध्यान नहीं दिया गया। हम सभी जानते हैं कि देश की आर्थिक प्रगति में परिवहन का कितना महत्व है। हमें चाहिए कि जो परिवहन क्षेत्र से जुड़े लोग हैं, उनके जान-माल का भी ध्यान रखा जाए।

उन्होंने कहा कि आज के दौर में घायल व्यक्ति को कोई देखता नहीं था। कोई उसे अस्पताल तक ले जाने की जहमत नहीं उठाता था। अब लोगों की सोच बदल रही है। घायल को अस्पताल पहुंचाने पर पुरस्कार की घोषणा हुई है। लोगों में मानवीय मूल्यों का फिर से विकास होने लगा है। दूसरी तरफ जो नया कानून लागू हुआ है, उससे चालकों में डर का माहौल है।

इसे भी पढ़ें – पतरातू में 15 वर्षीय नाबालिग से दुष्कर्म, आरोपी गिरफ्तार

धर्मेंद्र तिवारी ने मांग करते हुए कहा है कि इस कानून में जल्द से जल्द संशोधन किया जाए। इस कानून के विरोध में जिस तरीके से लोग देश भर में आंदोलन-विरोध-प्रदर्शन कर रहे हैं, उसके कारण पेट्रोल पंपों में तेल नहीं रह गया है। इसका असर अन्य कारोबार पड़ रहा है। संब्जियों की कीमतों में भी जोरदार बढ़ोत्तरी देखी जा रही है। इससे कुल मिला कर आम आदमी को ही नुकसान हो रहा है। ऐसा कानून किस काम का भला, जिसमें आम आदमी का नुकसान हो। जनता परेशान हो रही है। यात्री भी परेशान हैं।

By Admin

error: Content is protected !!