इचाक के वित्त रहित विद्यालय एवं महाविद्यालय रहे एक दिवसीय शैक्षणिक हड़ताल पर

हजारीबाग :  इचाक प्रखंड के सभी वित्त रहित इंटर महाविद्यालय और उच्च विद्यालय के प्राचार्य, प्रधानाचार्य, शिक्षक एवं शिक्षकेतर कर्मचारीगण विभिन्न मांगों को लेकर एक दिवसीय शैक्षणिक हड़ताल पर रहे। जिसमें जीएम इंटर महाविद्यालय इचाक,आदर्श इंटर महाविद्यालय इचाक, जे.एम.इंटर महाविद्यालय उरुका, सीएम आदर्श उच्च विद्यालय इचाक, उच्च विद्यालय बरकाखूर्द, उच्च विद्यालय सिझुवा शामिल थे। प्रखंड के सभी शैक्षणिक संस्थानों में एक दिवसीय शैक्षणिक हड़ताल रहने के कारण विद्यार्थी शिक्षण स्थल पर आए लेकिन विद्यालय और महाविद्यालय में ताला लटका देख कर घर वापस लौट गए। सरकार के गलत नीति के कारण इचाक प्रखंड से केवल 5000 विद्यार्थों का पठन पाठन बाधित रहा। जिसमे विद्यालय, महाविद्यालय में शैक्षणिक कार्य नही हुई। इस दौरान शिक्षक एवं शिक्षकेतर कर्मचारी अपने-अपने विद्यालय और महाविद्यालय के मेन गेट के सामने उपवास पर रहें।  

हड़ताल पर रहे स्कूलों और कॉलेजों की प्रमुख मांगों में
अनुदान 2022-23 ऑनलाइन भरने के लिए तिथि 07 सितंबर 2022 तक बढाई जाय, वित्त रहित संस्थाओं का अधिग्रहण किया जाय, शिक्षक कर्मचारियों की सेवा सरकारी संवर्ग में करते हुए वेतनमान दिया जाय, स्कूल-कॉलेजो को बार-बार जांच के नाम पर आर्थिक दोहन एवं प्रताड़ित नहीं किया जाय जैसे कई मांगें शामिल थी।

हड़ताल में जीएम इंटर महाविद्यालय इचाक से पंकज कुमार, रत्नेश कुमार राणा, अजय उरांव, अजीत हंसदा, संगम कुमारी, गायत्री शर्मा, विनोद कुमार मेहता, कृष्ण कुमार मेहता, सुनीता टोप्पो, प्रिया कुमारी, आदर्श इंटर कॉलेज से मनीष कुमार, मनोज कुमार, मुन्ना पांडे, ममता मेहता, कैलाश कुमार, कुमारी अंजली, चिंतन कुमारी, सुलेखा कुमारी, सतेंद्र प्रसाद, जे.एम. इंटर कॉलेज से बसंत कुमार, राजेंद्र यादव, विजय कुमार, प्रदीप कुमार, पप्पू कुमार, रामप्रकाश मेहता, सीएम आदर्श उच्च विद्यालय से जीवन कुमार, ओमकार मेहता, बैजनाथ मेहता, धर्मेंद्र कुमार, युगेश कुमार, राजेश प्रसाद, उच्च विद्यालय बरकाखुर्द से बैजनाथ प्रजापति, श्रीकांत कुमार मेहता, रवि कुमार, राधेश्याम मेहता, उच्च विद्यालय सिझुवा से इंद्रदेव मेहता, जयनारायण मेहता, चंद्रधारी मेहता, मो. समीर, प्रियंका कुमारी का सराहनीय योगदान रहा।

By Admin

error: Content is protected !!