उरीमारी में हर्षोल्लास से मना दशहरा, मां दुर्गा की प्रतिमा का हुआ विसर्जन

बड़कागांव: उरीमारी कोयलांचल के हेसाबेड़ा में नवरात्र के अंतिम दिन मां दुर्गा को नम आंखों से विदाई दी गई। मां दुर्गा की प्रतिमा को हेसाबेड़ा तालाब में पूरे विधि-विधान के साथ विसर्जित किया गया। इस दौरान मां दुर्गा के जयकारों से पूरा क्षेत्र गुंजेमान रहा। विदाई से पूर्व महिलाओं ने जमकर सिंदूर होली खेला। इससे पूर्व हेसाबेड़ा में रावण दहन किया गया।

रावण दहन के दौरान हो रही आतिशबाजी लोगों के बीच आकर्षण का केन्द्र रहा। रावण दहन के पश्चात भीड़ के कारण पैदल चलने वालों को अपने अपने गंतव्य स्थान तक जाने के लिए काफी मशक्कत करनी पड़ी।

वहीं चारपहिया वाहनों की आवाजाही भी काफी मुश्किल से हो पा रहा था। विधि व्यवस्था बनाए रखने को लेकर उरीमारी ओपी पुलिस सहित सीसीएल के सुरक्षा कर्मियों लगातार प्रयास कर रहे थे।

मौके पर मुख्य रूप से राकोमयू के क्षेत्रीय सचिव राजू यादव, उरीमारी ओपी प्रभारी शशिभूषण कुमार, सीताराम किस्कू, महादेव बेसरा, शनिचरवा मांझी, डॉ जीआर भगत, कानू मांझी, मुनिशराम मांझी, कृष्णा किस्कू, जतरू बेसरा, भोला रविदास, सुखदेव सोरेन, मनाराम हंसदा, तालो बेसरा, पंडित पुरूषोत्तम पांडेय सहित कई लोग मौजूद थे।

By Admin

error: Content is protected !!