सौंदा ‘डी’ से अपहृत बच्ची आयत परवीन सकुशल बरामदKidnapped girl Aayat Parveen recovered safely

अपहरण करनेवाली भिखारिन और उसका पति गिरफ्तार

• पतरातू से बरामद हुई बच्ची

रामगढ़: बच्चा चोरी के मामले में भुरकुंडा पुलिस को बड़ी कामयाबी मिली है। थानाक्षेत्र के सौंदा ‘डी’ पंचायत से अपहृत चार वर्षीय आयत परवीन को पुलिस ने सकुशल बरामद कर लिया है। बच्ची का अपहरण करनेवाली भिखारिन और उसके पति को हिरासत में ले लिया गया है।

मिली जानकारी के अनुसार गुरुवार की सुबह पुलिस ने सूचना के आधार पर स्टीम कॉलोनी के पास झुग्गी में छापेमारी की। जहां आयत को अगवा करनेवाली महिला पुलिस के हत्थे चढ़ गई। इस दौरान उसका पति विशाल गुलगुलिया(24वर्ष) बच्ची आयत को लेकर पतरातू स्टेशन पर था। जहां से वह बच्ची को ट्रेन से कहीं अन्यत्र ले जाने कि फिराक में था। इससे पहले की वह भाग पाता, पुलिस ने स्टेशन पहुंकर उसे हिरासत में लिया। पुलिस दोनों पति-पत्नी और बच्ची आयत को भुरकुंडा ओपी ले आई। जहां प्रक्रिया पूरी कर बच्ची को परिजनों के सुपुर्द कर दिया गया। अपहरणकर्ता दंपती के खिलाफ पुलिस कानून कार्रवाई कर रही है।

Kidnapped girl Aayat Parveen recovered safely
आयत अपने माता-पिता के साथ

22 नवंबर को अगवा हुई थी आयत

बताते चलें कि बीते 22 नवंबर (मंगलवार) को सुबह 11 बजे के लगभग आयत को भिक्षाटन कर रही महिला मीना देवी (22 वर्ष) अगवा कर अपने साथ ले गई। परिजनों ने बच्ची की खोजबीन शुरू की। जिसके बाद उन्हें बच्ची को भिखारिन के साथ देखे जाने की जानकारी मिली। परिजनों ने भुरकुंडा थाना में बच्ची को अगवा करने से संबंधित आवेदन दिया। जिसके बाद भुरकुंडा पुलिस तत्परता से खोजबीन में जुट गई। छानबीन के दौरान सीसीटीवी फुटेज में पुलिस को अहम जानकारियां भी मिली। अपहरणकर्ता महिला की खोजबीन शुरू हो गई।

पुलिस की सफलता से क्षेत्र में हर्ष

रामगढ़ जिला पुलिस के लिए बच्ची आयत की सकुशल बरामदगी किसी बड़ी कामयाबी से कम नहीं है। जहां शोक में डूबे परिजनों की आंखों में चमक और चेहरे की मुस्कान लौट आई है, वहीं भुरकुंडा पुलिस और विशेषकर भुरकुंडा थाना प्रभारी बलवंत दूबे की तत्परता और सजगता से क्षेत्र में हर्ष का माहौल है। क्षेत्र में बच्चा चोरी की यह पहली घटना सामने आई है। घटना से क्षेत्र के लोग स्तब्ध और चिंतित थे। पुलिस ने किसी अनहोनी से पूर्व ही मामले का उद्भेदन कर दिया है। जिससे लोग राहत की सांस लेते दिख रहे हैं।

मामले को पुलिस ने पूरी गंभीरता से लिया : एसडीपीओ

पतरातू अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी डॉ. बिरेंद्र चौधरी ने मीडिया को बताया कि मामले को लेकर पुलिस पूरी तत्परता से लगी हुई थी। भुरकुंडा थाना प्रभारी बलवंत दूबे लगातार छानबीन कर रहे थे। पतरातू थाना की पुलिस का भी सहयोग रहा। उक्त महिला और बच्ची के स्टीम कॉलोनी के समीप होने की जानकारी पर पुलिस ने त्वरित कार्रवाई की।

By Admin

error: Content is protected !!