रांंची: सांसद ने किया कैंडल लाइट ‘प्रेस कॉन्फ्रेंस’Ranchi MP did candle light 'press conference'

राज्य की वर्तमान सरकार को सबसे भ्रष्ठ और नाकाम बताया

रांंची :  राज्य की वर्तमान सरकार ने बीते तीन साल में जनता को सिर्फ सब्जबाग दिखाया है। राज्य सहित राजधानी रांंची की व्यवस्था लचर हो चुकी है। जनता त्राहिमाम कर रही है और राज्य सरकार भ्रष्टाचार में मस्त हैं। राज्य में स्वास्थ्य, शिक्षा, सुरक्षा, बिजली, रोजगार सहित हर मुद्दे पर यह सरकार पूरी तरह से नाकाम है। यह बातें रांंची संसदीय क्षेत्र के भाजपा सांसद संजय सेठ ने कार्यालय में आयोजित ‘कैंडल लाइट प्रेस कॉन्फ्रेंस’ में कही।

उन्होंने कहा कि बिजली का आलम यह है कि राजधानी रांची में 6 से 7 घंटे बिजली की कटौती हो रही है। ग्रामीण क्षेत्रों में तो सिर्फ 4 घंटे बिजली मिल रही है। कई उद्योग धंधे बंद होने के कगार पर हैं। लोगों को दैनिक कार्यों में परेशानी हो रही है।

सांसद ने कहा कि झारखंड के सबसे बड़े अस्पताल रिम्स की व्यवस्था पर आए दिन माननीय उच्च न्यायालय टिप्पणी करते हैं। परंतु सरकार को कोई फर्क नहीं पड़ रहा है। संवेदनहीनता की पराकाष्ठा यह है कि लाइट नहीं रहने के कारण एक नवजात की मौत हो गई। इसकी जिम्मेदारी कौन लेगा?  सरकार संवेदनहीन हो चुकी है। इसे अब जनता के सरोकार से कोई मतलब नहीं है।

सांसद संजय सेठ ने कहा कि प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के तहत केंद्र सरकार गरीबों को मुफ्त खाद्यान्न उपलब्ध करा रही है, परंतु राज्य सरकार को यह भी नागवार गुजर रहा है। अनाज की कालाबाजारी कर बेच जा रहा है। अभी कुछ दिन पूर्व अखबारों में खबर आई कि ट्रक के ट्रक अनाज गायब कर दिए गए और सरकार चुपचाप बैठी रही।

सांसद ने कहा कि भ्रष्टाचार की कहानी तो पूछिए मत। ईडी अब संपत्तियां जप्त करने में लगा हुआ है। झारखंड में कोई एक पूजा सिंघल या अभिषेक झा नहीं हैं। यहां पूजा सिंघल जैसे कई कुंडली मारे बैठे हैं। मेरा आग्रह राज्य सरकार से थोड़ी सी भी लोक लज्जा और मर्यादा बची हो तो इन सभी भ्रष्टाचारियों पर कार्रवाई करें। 

सांसद ने कहा कि दुखद आश्चर्य है कि मेन रोड में जो दंगा हुआ, उस दंगे की फाइल बंद कर दी गई। आखिर किसके दबाव में इसे बंद किया गया, सरकार को इसका जवाब जनता को देना चाहिए। तीन दिनों तक रांची की जनता बंधक बनी रही। कर्फ्यू का माहौल रहा, इंटरनेट बंद कर दिया गया। दंगा हुआ और उसकी फाइल ही बंद कर दी गई।

कहा कि, कुल मिलाकर यह सरकार भ्रष्टाचार और तुष्टीकरण के एजेंडे पर काम कर रही है यह सरकार और कोई एजेंडा बचा नहीं है। कुछ दिनों बाद सरकार सिर्फ झूठी उपलब्धियां गिनायेगी। यह सरकार अबतक राज्य की सबसे भ्रष्ट और नाकाम सरकार है। कहा कि कि जरा भी मान मर्यादान बची है तो जनता को बुनियादी सुविधाएं उपलब्ध कराये या फिर पूरी की पूरी सरकार ही इस्तीफा दे दे।

By Admin

error: Content is protected !!