साईं नाथ विश्वविद्यालय, राँची में मनाया गया अंतर्राष्ट्रीय योग दिवसyoga day at sainath university

रांची : साईं नाथ विश्वविद्यालय, राँची के परिसर में मंगलवार को अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस का आयोजन किया गया। आयोजन की शुरूआत प्रातः 6.00 बजे से की गयी।  जिसमें योगा प्रोटोकॉल के साथ-साथ आजादी का अमृत महोत्सव अभियान के अंतर्गत विशेष कार्यक्रम आयोजित किये गये।

विश्वविद्यालय के कुलपति प्रोफेसर डॉ. एसपी अग्रवाल ने कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस का मुख्य उद्देश्य लोगों में योग के स्वास्थ्य लाभों के बारे में जागरूकता पैदा करना है, आज अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस स्वास्थ्य के लिए एक जन आंदोलन बन गया है। साथ ही कुलपति महोदय ने कहा कि कोरोना महामारी में ठीक होने के बाद योगा करने से लोगों की इम्यूनिटी मजबूत हुई है। भाग दौड़ वाली जिंदगी में खुद को स्वस्थ और तनावमुक्त रखने के लिए योग असरदार साबित हुआ है जो आपको कई तरह की बीमारियों से बचा सकता है। इसलिए जरूरी है कि हर सुबह उठकर योग करें।

इसके उपरांत विविद्यालय के डीन ( एकेडमिक) डॉ शिवागुरूनाथन ने भी छात्रों को संबोधित करते हुए कहा कि योग से न केवल व्यक्ति का तनाव दूर होता है बल्कि मन और मस्तिष्क को भी शांति मिलती है योग बहुत ही लाभकारी है।

विश्वविद्यालय के फिजिकल एजुकेशन विभाग के विभागाध्यक्ष प्रो० मो. साजिद अंसारी एवं सहायक प्राध्यापक प्रो. मनीष कुमार एवं एनसीसी ऑफिसर प्रो. सूर्यकांत महतो द्वारा विभिन्न प्रकार के योगासन जैसे स्कंध चक्र, ताड़ासन, पादहस्तासन, मकरासन, भुजंगासन, सेतुबंध, उतानपादासन, शवासन, कपालभाति, नाड़ी शोधन, प्राणायाम, भ्रामरी सहित अन्य योग से प्रशिक्षित किया गया।

अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पर शारीरिक शिक्षा विभाग की छात्र-छात्राएं सहित एनसीसी कैडेट्स ने हिस्सा लिया। विश्वविद्यालय के शिक्षक-शिक्षिकाएँ, प्रशासनिक अधिकारियों के अलावे उप कुलसचिव डॉ दीपक शुक्ल, परीक्षा नियंत्रक प्रो निकिता ठाकुर आदि उपस्थित थे।

By Admin

error: Content is protected !!