गुलामी का प्रतीक राज पथ अब कहलाएगा कर्तव्य पथ

प्रधानमंत्री मोदी ने सुभाषचंद्र बोस की 28 फिट की भव्य प्रतिमा का किया अनावरण

नई दिल्ली :इंडिया गेट के सामने राजपथ अब कर्तव्य पथ के नाम से जाना जाएगा। गुरुवार की शाम इंडिया गेट के सामने भव्य नजारा रहा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने समारोह पूर्वक राजपथ का कर्तव्य पथ के रूप में उद्घाटन किया। इसके साथ ही इंडिया गेट के निकट सुभाषचंद्र बोस की भव्य प्रतिमा का भी अनावरण किया।

बताया जाता है कि इस स्थान पर वर्षों पहले ब्रिटिश हुकूमत के जार्ज पंचम की मूर्ति हुआ करती थी। उद्घाटन से पूर्व प्रधानमंत्री ने सेट्रल विस्टा का भी अवलोकन किया। उद्घाटन के अवसर पर प्रधानमंत्री ने कहा कि आज हम गुजरे हुए कल को पीछे छोड़ नये कल की तस्वीर में रंग भर रहे हैं। गुलामी का प्रतीक राजपथ अब हमेशा के लिए मिट गया है और अब यह कर्तव्य पथ के नाम से जाना जाएगा और देशवासियों को कर्तव्य का बोध कराएगा। पीएम ने कहा कि देशवासियों को आजादी के अमृतकाल में गुलामी के एक और प्रतीक से मुक्ति के लिए बधाई। आगे उन्होंने कहा कि आज जहां नेताजी की प्रतिमा स्थापित हुई है वहां गुलामी काल में ब्रिटिश राज के अधिकारी की प्रतिभा थी। आज यहां नेताजी की प्रतिमा स्थापित कर सशक्त भारत की प्राण प्रतिष्ठा कर दी गई है। कहा कि आजादी के बाद देश नेताजी सुभाषचंद्र बोस की राह पर चला होता तो आज देश काफी उंचाईयों पर होता। उनके पास साहस था, विजन था और नेतृत्व क्षमता थी।

By Admin

error: Content is protected !!