एसएमएस कोचिंग में मनी डॉ. भीमराव अंबेडकर की पुण्यतिथिDeath Anniversary of Dr. Bhimrao Ambedkar in SMS Coaching

हजारीबाग: एसएमएस कोचिंग सेंटर, अलौंजा खुर्द में बाबा साहेब डॉ. भीमराव आंबेडकर का 66वां महापरिनिर्वाण दिवस मनाया गया। कोचिंग के डायरेक्टर प्रो. सुबोध कुमार दास, शिक्षक बैजू मेहता, शिक्षक सोहन कुमार दास, शिक्षक संजय कुमार दास एवं कोचिंग सेंटर के क्लास 6 से 12 तक के सभी बच्चें उपस्थित थे।

सर्वप्रथम बाबा साहेब डॉ भीमराव अम्बेडकर के चित्र पर माल्यार्पण किया गया। शिक्षक एवं बच्चों ने मिलकर हाथ जोड़कर बाबा साहेब आंबेडकर को याद किया। सभी लोगों ने कहा कि बाबा साहेब अमर रहे, जब तक सूरज चांद रहेगा बाबा तेरा नाम रहेगा, बाबा साहेब ने कहा है शिक्षा वह शेरनी का दूध है, जो जितना पिएगा वो उतना दहाड़ेगा।

मौके पर शिक्षक बैजू मेहता ने कहा कि बाबा साहेब आंबेडकर भारत के पहले विद्वान एवं सबसे अधिक पढ़े लिखें और 32 डिग्री, 9 भाषा के ज्ञानी थे। प्रो. सुबोध दास ने कहा कि बाबा साहेब आंबेडकर को अमेरिका देश ने इन्हें ज्ञान का प्रतीक माना है। इनके द्वारा लिखे गए संविधान विश्व का सबसे बड़ा लिखित संविधान है। पूरे भारत के लोग इसे पढ़ कर ही आईएएस, डॉक्टर, प्रोफेसर, पीएम, सीएम, विधायक, मुखिया, सरपंच आदि बन रहे।

मौके पर मुख्य रूप से हिमांशु मेहता, रितिक मेहता, समीर मेहता, श्रवण दास, विकास साव, अरुण यादव, तौसीफ अंसारी, मुसेक अंसारी, कुंदन मेहता, रोहित साव, अमन राणा, पूनम कुमारी, शिल्पा कुमारी, नेहा कुमारी, रुबी कुमारी, आकांक्षा कुमारी, शीतल, दिव्या, मुस्कान, ज्योति, लता, सोनाक्षी, राखी, मंटू, विकास, राहुल सहित कई लोग मौजूद थे।

 

यह भी पढ़ें-स्वस्थ्य किडनी के लिए इन बातों का रखें ध्यान

 

By Admin

error: Content is protected !!