तीन दिवसीय फुटबॉल टूर्नामेंट का विजेता बना तिलैयाTilaiya became the winner of the football tournament

फाइनल में तिलैया ने हुरूमगढ़ा को 0-3 से हराया

बड़कागांव: झारखंड युवा क्लब द्वारा आयोजित तीन दिवसीय फूटबॉल टूर्नामेन्ट का फाइनल मैच गेरा टोला मैदान में रविवार को खेला गया। फाइनल मैच में बतौर मुख्य अतिथि पोटंगा पंचायत के पूर्व उप मुखिया सूरज बेसरा, विशिष्ट अतिथि पोटंगा पंचायत के उप मुखिया रविन्द्र सोरेन, बिनोद हेंब्रोम, सन्नी सोरेन, आजाद मुर्मू, वार्ड सदस्य फूलमती देवी, बेनीलाल सोरेन, गोविन्द मॉंझी, जागो मॉंझी उपस्थित थे।

सर्वप्रथम अतिथियों ने खिलाड़ियों से परिचय प्राप्त किया तत्पश्चात फीता काट कर एवं फुटबॉल को कीक मारकर फाइनल मैच का विधिवत उद्घाटन किया। मौके पर मुख्य अतिथि पोटंगा पंचायत के पूर्व उप मुखिया सूरज बेसरा ने कहा विभिन्न क्षेत्रों से आए खिलाड़ी बेहतर प्रदर्शन कर फाइनल मुकाबले में पहुंचे हैं। खेल हमेशा दो टीमों के बीच होता है। हारे हुए खिलाड़ियों को निराश होने की जरूरत नहीं है आगे प्रयास जारी रखें सफलता जरूर मिलेगा। फाइनल मैच के मौके पर गेरा टोला की छोटी-छोटी बच्चियों द्वारा सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किया गया।

अंतिम दिन सेमीफाइनल और तिलैया-हुरूमगढ़ा फाइनल मैच

इससे पूर्व सेमीफाइनल में पहला मैच गते क्लब हुडूमगढ़ा बनाम छापर के बीच खेला गया। जिसमें पेनाल्टी शूटआउट में 06-05 से गते क्लब हुडूम गढ़ा ने छापर को हराकर फाइनल में जगह बना लिया। वहीं दूसरा सेमीफाइनल मैच न्यू बरटोला बनाम सोरेन क्लब तिलैया के बीच खेला गया। जिसमें 02-01 से सोरेन क्लब तिलैया ने न्यू बरटोला को 02-01 से पराजित कर फाइनल में पहुंच गई। फाइनल मैच गते क्लब हुडूमगढ़ा बनाम सोरेन क्लब तिलैया के बीच खेला गया। जिसमें सोरेन क्लब तिलैया ने गते क्लब हुडूम गढ़ा को 0-3 से पराजित कर टुर्नामेंट पर कब्जा जमा लिया।

टूर्नामेंट की विजेता सोरेन क्लब तिलैया को 30 किलो मुर्गा एवं 1000 रुपया नगद राशि का पुरस्कार  मुख्य अतिथि पोटंगा पंचायत के पूर्व उप मुखिया सूरज बेसरा एवं विशिष्ट अतिथि पोटंगा पंचायत के उप मुखिया रविन्द्र सोरेन द्वारा दिया गया। उप विजेता टीम गते क्लब हुडूमगढ़ा को 20 किलो मुर्गा एवं 500 रुपया नगद राशि बिनोद हेम्ब्रोम एवं पप्पुलाल मॉंझी द्वारा दिया गया। तृतीय पुरस्कार 15 किलो मुर्गा तथा 300 रूपए नगद राशि गोविन्द मॉंझी, एवं जागो मॉंझी के द्वारा दिया गया। चतुर्थ पुरस्कार 10 किलो मुर्गा और 300 रुपए का नगद राशि आजाद मुर्मू एवं बेनीलाल सोरेन के द्वारा  दिया गया। वहीं सांस्कृतिक कार्यक्रम को प्रस्तुत करने वाले बच्चियों को 1000 रुपया नगद राशि दिया गया।

टूर्नामेंट को सफल बनाने में इनका रहा योगदान

टुर्नामेंट को सफल बनाने में अध्यक्ष सुनील सोरेन, सचिव बिनोद मुर्मू, कोषाध्यक्ष विक्रम टुडू, पप्पूलाल मांझी, अजय बेसरा, प्रेम सोरेन, मनाराम टुडू, बन्शीलाल मुर्मू, सुलेन्द्र टुडू, मिथुन सोरेन, दिलीप मुर्मू, दिनेश टुडू, रामजीत टुडू, मुन्शी मुर्मू, धानो मरांडी, पवन सोरेन, छोटेलाल मुर्मू, पुसन मुर्मू जितेन्द्र टुडू, बिनोद मुर्मू, प्रकाश टुडू सहित कई लोगों का सराहनीय योगदान रहा।

 

ये भी पढ़ें-

 

By Admin

error: Content is protected !!