‘भारत जोड़ो’ अभियान से पहले ‘कांग्रेस जोड़ो’ अभियान था जरूरी : आज़ाद

वरीय कांग्रेसी नेता गुलाम नबी आज़ाद ने छोड़ा कांग्रेस का दामन

नई दिल्ली : कांग्रेस पार्टी के दिग्गज नेता गुलाम नबी आज़ाद ने कांग्रेस पार्टी को छोड़ दिया है। उन्होंने पार्टी के सभी पदों सहित प्राथमिक सदस्यता से भी इस्तीफा दे दिया है। जो कांंग्रेस पार्टी के बड़ा झटका माना जा रहा है। वहीं उनके इस्तीफे के बाद कांग्रेसी नेता उन्हें मौकापरस्त और अति महत्वाकांक्षी बता रहे हैं।

इधर, एक पत्र सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है। जो गुलाम नबी आज़ाद द्वारा कांग्रेस की सोनिया गांधी को लिखा गया बताया जा रहा है।

पत्र में लिखा है कि –

आप जानती हैं कि, श्रीमती इंदिरा गांधी, संजय गांधी से लेकर लेकर आप दिवंगत पति राजीव गांधी से करीबी संबंध रहे। मैं उनका सम्मान करता हूँ और हमेशा करता रहूंगा। मैंने कांग्रेस में अपना पूरा व्यस्क जीवन समर्पित कर दिया। इधर कांंग्रेस अपने उद्देश्यों और आदर्शों से भटक गई है। कांग्रेस की शीर्ष नेतृत्व कमेटी ने इच्छा और क्षमताएं खो दी हैं। ऑल इंडिया कांग्रेस कमेटी के शीर्ष नेतृत्व को ‘भारत जोड़ो’ अभियान से पहले ‘कांग्रेस जोड़ो’ अभियान चलाना चाहिए था।
आगे उन्होंने लिखा है कि – बड़े खेद के साथ मैं कांग्रेस के साथ आधी शताब्दी पुराने संबंध को तोड़ रहा हूं और पार्टी के सभी पदों और प्राथमिक सदस्यता से भी इस्तीफा दे रहा हूं।

 

यह भी पढ़ें –

By Admin

error: Content is protected !!